होम मुख्य खबर ज़ूम एप्प के विश्व में 1 करोड़ से 20 करोड़ यूज़र –...

ज़ूम एप्प के विश्व में 1 करोड़ से 20 करोड़ यूज़र – भारत ने बताया असुरक्षित

ज़ूम -फेसबुक,

कुछ हफ्तों पहले जहा ज़ूम वीडियो एप्प के विश्वभर में मात्र 1 करोड़ यूज़र थे वो कोरोना लॉकडाउन के चलते कुछ ही हफ्तों में 20 करोड़ तक पहुंच गए। वहीं भारत सरकार ने इस एप्प को न इस्तेमाल करने की नसीहत दी है।

मार्च के आखरी रविवार को एक ही दिन में 6 लाख लोगों ने ज़ूम एप्प डाउनलोड की थी। ज़ूम एक चीनी एप्लीकेशन है जिसके इस्तेमाल से एप्प द्वारा एक साथ 100 लोगों से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग कर सकते हैं। ज़ूम वीडियो कम्युनिकेशन्स के नाम से यह एप्लीकेशन नैस्डेक में भी लिस्टेड है। कुछ ही दिनों में इसके शेयर की कीमत बढ़कर दुगनी हो गई है। नैस्डेक में इन दिनों इसके शेयर की कीमत करीब 150 अमरीकी डॉलर है।

कोरोना वायरस की वजह से अधिकतर देशो में लॉकडाउन कर दिया गया है। सभी स्कूल, कार्यालय तथा अन्य गतिविधयां बंद हैं। अधिकतर कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा है। कम्पनिओं की मीटिंग भी ऑनलाइन हो रहीं है, यहाँ तक की दुनिया भर के स्कूल भी बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई करवा रहे हैं। यहां तक की छोटे बड़े खेल संगठन भी अपने टूर्नामेंट ऑनलाइन करने की त्यारी में हैं।

इसी के चलते दुनिया भर में ज़ूम एप्प का इस्तेमाल एकदम से बढ़ गया है। लेकिन इसी के साथ दुनिया के कुछ हिस्सों से गोपनीयता एवं सुरक्षा की शिकायतें आने लगी हैं।

न्यूयॉर्क टाइम्स ने इस सप्ताह बताया कि ज़ूम का वीडियोकंफ्रेंसिंग प्लेटफ़ॉर्म एक डेटा-माइनिंग फ़ीचर चला रहा था, जिसने कुछ प्रतिभागियों को अन्य उपयोगकर्ताओं के लिंक्डइन प्रोफ़ाइल का डेटा उनकी सहमति या अधिसूचना के बिना देखने में इजाज़त दे दी। ज़ूम ने एक सॉफ्टवेयर जोड़ दिया था जो ज़ूम पर वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग इस्तेमाल करने वाले का नाम और ईमेल एक सिस्टम को भेज देता है। सिस्टम उस नाम और इस्माइल से यूज़र का लिंक्डइन का अकाउंट खोज निकालता था।

भारत सरकार देगी एक करोड़

हाल ही के दिनों में भारत सरकार ने इस समस्या से निपटने के लिए भारत के आई टी डेवेलपर्स को न्योता दिया है। भारत सरकार ने ऐसी ही एक एप्प बनाने के स्टॉर्टअप के अंतर्गत भारतीय कंपनियों को आमंन्त्रित किया है। यह कंपनियां 30 अप्रैल तक भारत सरकार की आईटी मंत्रालय की वेबसाइट पर पंजीकरण कर सकती हैं।

मंत्रालय द्वारा इनमे से तीन कंपनियों को इस काम के लिए चुना जाएगा। चुनी गई तीनो कम्पनिओं को एप्प बनाने के लिए 20 -20 लाख रुपया दिया जायेगा। तीनो कंम्पनियां एप्प त्यार कर भारत सरकार के समक्ष प्रस्तुत करेंगी। तीनो में से जो सबसे बेहतर एप्प होगी उसे 1 करोड़ की राशी दी जाएगी। एप्प के रखरखाव के लिए 10 लाख रुपए भी दिए जायेंगे।

सरकार द्वारा यह पहल एक सराहनीय कदम है, हालांकि भारत को इस तरह की पहल बहुत पहले ही कर देनी चाहिए थी। चलिए देर आए दरुस्त आए।

फेसबुक के विडिओ कालिंग नए फीचर

फेसबुक द्वारा हाल ही मे व्हाट्सप्प और मेस्सेंजर विडिओ कालिंग में विडिओ कॉल करने वालों की संख्या बढ़ाए जाने को ज़ूम के बाजार में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने की तरफ एक कदम है।

अब आप व्हाट्सएप्प पर एक साथ 8 और फेसबुक मैसेंजर पर एकसाथ 50 लोग वीडिओ कालिंग कर सकते हैं।

पढ़िए पूरी खबर >>> व्हाट्सएप्प, FB मेस्सेंजर और इंस्टाग्राम पर नई सुविधाएं

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें