होम स्वास्थ पैरों के बीच तकिया लगाकर सोने से स्वास्थ्य को मिलते हैं ये...

पैरों के बीच तकिया लगाकर सोने से स्वास्थ्य को मिलते हैं ये फायदे, जानें कैसे

अच्छी नींद के लिए बहुत आवश्यक है कि आपके सोने का तरीका सही हो। सोने का तरीका कुछ इस प्रकार हो कि शरीर के किसी भी अंग पर किसी तरह का दबाव न पड़े। यदि रात में दोनों पैरों के बीच तकिया लगाकर किसी एक करवट सोने की आदत आप डाल लेंगे तो फिर अच्छी नींद की भी आदत आपको हो ही जाएगी। इस तरह से सोने से न सिर्फ अच्छी नींद आती है बल्कि कई सारी शारीरिक समस्याएं भी दूर हो जाती हैं।

अपने फोन पर खबरें पाने के लिए हमारी एंड्रॉयड एप्प मोबाइल पर डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

प्रेगनेंट महिलाओं को हमेशा एक तरफ पैरों के बीच तकिया रखकर सोने की सलाह दी जाती है। पैरों के बीच तकिया रखकर सोने से रक्त का संचार शिशु तक अच्छे से पहुंचता है। ऐसे में गलत पोजिशन में लेटने से आपके पेट की नसों पर दबाव पड़ता है और आपको दर्द भी हो सकता है। इसलिए ऐसे समय में आरामदायक आसन में ही सोना चाहिए और पैरों के बीच तकिया रखकर सोने से ज़्यादा आरामदायक और कुछ नहीं होगा। ऐसा करने से बच्चे का भी स्वास्थ्य सुरक्षित और आरामदायक अवस्था में रहता है। 

पीरियड्स बहुत ही दर्दनाक होते हैं। शुरूआत के दिनों में पीठ कमर और पेट में महिलाओं को बहुत दर्द होता है। ऐसे में पेट के बल या पीठ के बल सोने में और भी दर्द होता है। इस अवस्था में कई बार महिलाएं दर्द से राहत पाने के लिए गलत पोजिशन में भी लेटती हैं। जिससे यह दर्द और भी बढ़ जाता है। इसलिए पीरियड्स के दिनों में अगर आप पैरों के बीच तकिया रखकर एक करवट लेटती या सोती हैं तो आपके दर्द में बहुत राहत मितली है। इससे आपकी मसल्स पर पड़ने वाला दबाव कम होता है और दर्द से आराम मिलता है। 

यदि आप अच्छी नींद नहीं सो पाते हैं, दिमाग में प्रतिपल कोई चिंता बनी रहती है तो दोनों पैरों के बीच तकिये को लगाकर सोएं। दोनों घुटनों के बीच तकिये को लगाने से घुटने एक दूसरे से टकराते नहीं हैं। शरीर का पॉश्चर सही रहता है जिससे कि मांसपेशियों में खिंचाव नहीं रहता है। यदि मांसपेशियों में पहले से खिंचाव महसूस हो रहा है तो इस तरह से सोएं, सुबह तक सारा दर्द दूर हो जाएगा।

हमारी रीढ़ की हड्डी एक जैसी लम्बी-पूरी नहीं होती है, उसमें थोड़ा घुमाव होता है। आजकल की भागदौड़ भरी जीवनशैली के कारण कई सारे लोग कमर और रीढ़ के दर्द से परेशान रहते हैं। इसलिए बहुत जरूरी है कि जब आप सोएं तो तकिये को दोनों पैरों के बीच रखकर एक करवट पर सोएं। ऐसा करने से कमर और रीढ़ की हड्डी पर जोर नहीं पड़ेगा। शरीर को आराम मिलेगा। दर्द शरीर से गायब हो जाएगा।

INDIA 24×7 NEWS

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें