होम विदेश यूक्रेन के राष्ट्रपति ने ठुकराया देश छोड़ने का ऑफर – कहा मुझे...

यूक्रेन के राष्ट्रपति ने ठुकराया देश छोड़ने का ऑफर – कहा मुझे हथियार दीजिए

यूक्रेन के राष्ट्रपति ने ठुकराया देश छोड़ने का ऑफर

रूसी सैनिकों ने शनिवार तड़के यूक्रेन की राजधानी की ओर धावा बोल दिया। शहर में विस्फोटों की गूंज सुनाई दे रही है। इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति ने रूसी सेना की घेराबंदी के खिलाफ पीछे न हटने का वादा किया है। अमेरिकी सरकार ने राष्ट्रपति जेलेंस्की को कीव से सुरक्षित बाहर निकालने का प्रस्ताव दिया है मगर जेलेंस्की ने इसे ठुकरा दिया।

दरअसल, अमेरिका की ओर से यूक्रेन के राष्ट्रपति को ये ऑफर मिला था कि वह देश छोड़ सकते हैं, लेकिन उन्होंने साफ शब्दों में इस बात से इंकार  कर दिया है। उनका कहना है कि मैं भागने वालों में से नहीं हूं, आपको मेरी मदद करनी है तो मुझे हथियार दीजिए, गोला बारूद दीजिए। बता दे इस वक़्त रूसी सेना ने यूक्रेन में भयंकर तबाही मचा रखी है। इसी को  देखते हुए अमेरीका ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की को कीव को खाली कराने के लिए कहा था।  लेकिन, उन्होंने इंकार कर दिया। यह सभी बातें एसोसिएटेड प्रेस की एक रिपोर्ट में कही गई हैं। बताया गया है की जेलेंस्की ने कीव खाली कराने के प्रस्ताव को ठुकराते हुए कहा कि “लड़ाई यहां है; मुझे गोला-बारूद चाहिए, न की भाग निकलने की सलाह’.यह बात सुनकर अधिकारी ने जेलेंस्की को उत्साही व्यक्ति बताया है।

जानकारी के लिए बता दे कि रूस-यूक्रेन के बीच बढ़ते तनाव के बीच शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में रूस के खिलाफ प्रस्ताव लाया गया था।  इस पर तमाम देशों को वोटिंग करनी थी। हालांकि, इस वोटिंग से भारत ने खुद को बाहर रखा। भारत ने कहा है कि सभी सदस्य देशों को मतभेदों और विवादों को निपटाने के लिए कूटनीतिक तरीके से प्रयास करना चाहिए। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में शुक्रवार को इस प्रस्ताव के पक्ष में 11 मत पड़े।  चीन, भारत और संयुक्त अरब अमीरात मतदान से दूर रहे।  यह प्रस्ताव सुरक्षा परिषद में पारित नहीं हो सका क्योंकि परिषद के स्थायी सदस्य रूस ने इस पर मना कर दिया।  वोटिंग के बाद राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की ने ट्वीट किया कि दुनिया हमारे साथ है, सच्चाई हमारे साथ है, जीत हमारी होगी।

हालांकि इससे पहले जेलेंस्की ने भावुक ट्वीट करते हुए ये भी कहा था कि सभी ने उन्हें अकेला छोड़ दिया है। रूस के निशाने पर सबसे पहले मैं हूं और दूसरे नंबर पर मेरा परिवार है।  जेलेंस्की ने यूक्रेनी अधिकारियों को चेतावनी भी दी है कि रूस राजधानी कीव में घुस चुका है। जेलेंस्की का कहना है कि वो और उनका परिवार गद्दार नहीं है, और यूक्रेन छोड़कर नहीं भागेंगे। इससे पहले यूक्रेन के राष्ट्रपति ने अमेरिका पर कटाक्ष किया और कहा, “हम अकेले अपने देश की रक्षा कर रहे हैं।  बता दें कि यूक्रेन की राजधानी कीव पर रूसी मिसाइल हमले के बाद लोग देश छोड़कर पड़ोसी देशों में भागने की कोशिश कर रहे हैं। राजधानी कीव पर मिसाइल हमलों के बीच यूक्रेनी नागरिकों ने शुक्रवार को पोलैंड, रोमानिया, हंगरी और स्लोवाकिया में बड़ी संख्या में घुसपैठ की है. इस इलाके में बड़ी संख्या में लोगों को सीमा पर घंटों इंतजार करते हुए भी देखा गया।

अमेरिकी रक्षा अधिकारियों का मानना ​​​​है कि रूसी आक्रमण को काफी प्रतिरोध का सामना करना पड़ा है और जैसी उम्मीद की जा रही थी रूसी सेना उस तेजी से आगे नहीं बढ़ रही है हालांकि यह परिदृश्य कभी भी बदल सकता है। रूसी सेना ने शुक्रवार को दक्षिणी यूक्रेन के मेलिटोपोल शहर पर अपना दावा करते हुए आगे बढ़ना जारी रखा। फिर भी, यह स्पष्ट नहीं है कि यूक्रेन का कितना हिस्सा अभी भी यूक्रेनी नियंत्रण में है और रूसी सेना ने कहां-कहां कब्जा कर लिया है।


Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें