होम ट्रेंडिंग चीन की एप्प टिकटॉक (TIKTOK) की रेटिंग गिरी

चीन की एप्प टिकटॉक (TIKTOK) की रेटिंग गिरी

tiktok

छोटे वीडियो की जानीमानी एप्प टिकटॉक (TIKTOK) की गूगल प्लेस्टोर पर रेटिंग तेज़ी से गिर रही है, कुछ दिन पहले यह रेटिंग 4.7 थी जो अब गिरकर 2.0 हो गई है।

चीन की कम्पनी द्वारा बनाया गया एप्प टिकटॉक (TIKTOK) की आज से कुछ दिन पहले तक की रेटिंग 4.7 थी जो अब घटकर 2.0 रह गई है लेकिन टिकटॉक इस्तेमाल करने वालों में अभी कोई कमी नहीं आयी है। भारत में लगभग 12 करोड़ लोग टिकटॉक का इस्तेमाल करते हैं।

टिकटॉक (TIKTOK) के नकारात्मक रेटिंग के तीन कारण हैं जिसमे एक टिकटॉक (TIKTOK) और यूट्यूब (Youtube) इस्तेमाल करने वालो के बीच की लड़ाई है।

दूसरा सबसे बड़ा कारण है कोरोना वायरस यानि COVID19, भारत हे नहीं बल्कि विश्वभर के लोगों का मानना है की इस वायरस का जन्म चीन में हुआ जो पूरी दुनिया मे फ़ैल गया और लाखों लोगों की जाने जा रही हैं। भारतीय लोगों द्वारा चीन में बनी वस्तुओं को बहिष्कार करने के मांग तेज़ी से बढ़ रही है जिसकी चपेट में टिकटॉक भी आ गया।

पिछले दिनों भारत के प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी की भारतीय वस्तुओं को बढ़ावा देने की अपील के चलते कुछ लोगों ने मोदी भक्तों से चीन में बने मोबाइल तथा अन्य वसतयुओं का बहिष्कार करने की चुनौती दी जिसमे टिकटॉक भी शामिल है।

हालांकि मोदी भक्तों ने टिकटॉक (TIKTOK) का बहिष्कार तो नहीं किया लेकिन नकारात्मक रेटिंग देनी शुरू कर दी जिसकी वजह से टिकटॉक की रेटिंग तेज़ी से नीचे गिरने लगी।

टिकटॉक (TIKTOK) को विश्वभर में कुल 80 लोग करोड़ और भारत में 12 करोड़ लोग इस्तेमाल करते हैं। विश्वभर से गूगल प्लेस्टोर पर 2 करोड़ 50 लाख समीक्षा यानी रिव्यु हैं। पिछले दिनों से भारतीय लोगों ने गूगल प्लेस्टोर पर टिकटॉक को केवल 1 रेटिंग देनी शुरू कर दी जिसकी वजह से यह रेटिंग तेज़ी से गिरनी शुरू हो गई है। टिकटॉक लाइट की रेटिंग भी गिरकर 1 तक पहुंच गई है।

इसमें कोई दो राय नहीं है की यूज़र कम होने की वजह से टिकटॉक की आय में गिरावट आएगी लेकिन बहिष्कार कितने लोग करते हैं यह आने वाले दिनों में साफ़ होगा।

हमने टिकटॉक से सम्पर्क करने की कोशिश की है, उनके जवाब का इंज़ार है।

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें