Flight and Hotel Discount

प्रीतम: श्रीलंका के विदेश मंत्री की तीन दिवसीय भारतीय यात्रा के दौरान भारत के विदेश मंत्री “एस. जयशंकर”से मुलाकात की और कई मुद्दों पर बातचीत हुई।


आपसी संबंधों को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित करते हैं और मछुआरों के मुद्दे पर भी चर्चा की गई। दोनों देशों के आंतरिक संबंधों को मजबूत बनाने पर ध्यान केंद्रित किया गया।


भारतीय मंत्री ने पर्यटन क्षेत्र की सुधीर ताकि और जोड़ देने के लिए व उन्नति के लिए आर्थिक सुधार प्रदान करने में मदद की उम्मीद व साथ ही साथ श्रीलंकाई ऊर्जा सुरक्षा को बढ़ाने के लिए अतिरिक्त कदमों पर बातचीत की। नकदी की तंगी से जूझ रही आईलैंड कंपनी द्वारा अपनी तत्काल तेल खरीद को वित्त मजबूती प्रदान करने के लिए 500 मिलियन डॉलर के ऋण के साथ आधिकारिक समझौते पर दो सप्ताह के विचार के बाद दोनों पक्षों के बीच हस्ताक्षर किए थे।


इसके अलावा हाल ही में 900 मिलियन डॉलर के विदेशी मुद्रा समर्थन के अलावा श्रीलंका में आर्थिक संकट ने बिजली जनरेटर को छोड़ दिया है और काम करने और नेटवर्क को परिवहन करने में सक्षम व्यापारियों को विदेशी मुद्रा से आयात करने के लिए वित्त पोषण के लिए घरेलू रसोई गैस और केरोसिन के स्रोत के लिए भी संघर्ष करना पड़ रहा है, एक तरफ 1 बिलियन डॉलर की क्रेडिट लाइन पर चल रहा है ताकि भारत में भोजन के बाद धीरे-धीरे आवश्यक भोजन और दवा का आयात हो सके।


जनवरी में रिकॉर्ड 25% में पर्यटन क्षेत्र जो एक जीवाश्म पर एक विदेशी मुद्रा है कोविड -19 महामारी के मद्देनजर लंका ढह गई, सरकार के पास पैसे बचाने के लिए दक्षिण विदेशी राजनयिक मिशन और ब्रॉडबैंड दोनों पर लगभग दो साल से प्रभाव चल रहा है, अब दूध पाउडर का आयात भी श्रीलंका में विदेशी मुद्रा भंडार में हो गया है।

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें