होम खेल राष्ट्रीय कर्लिंग चैम्पियनशिप 2022 सफलतापूर्वक संपन्न

राष्ट्रीय कर्लिंग चैम्पियनशिप 2022 सफलतापूर्वक संपन्न

राष्ट्रीय कर्लिंग चैम्पियनशिप 2022

श्रीनगर, जनवरी 13, 2021: जम्मू और कश्मीर में पहली बार राष्ट्रीय कर्लिंग चैम्पियनशिप और राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। कर्लिंग की यह पहली राष्ट्रीय चैंपियनशिप है, जो 11 जनवरी, 2021 को गुलमर्ग में संपन्न हुई। भारत में कर्लिंग खेल की संस्था Curling Federation of India (CFI) ने इसका आयोजन किया। इस चैंपियनशिप को रेलिगेयर और हमदर्द समूह द्वारा प्रायोजित किया गया।

जम्मू कश्मीर ने जूनियर और सीनियर पुरुष दोनों का स्वर्ण जीता। महिला स्वर्ण पदक, जूनियर और सीनियर दोनों आंध्र प्रदेश महिला टीम ने जीते। उत्तराखंड, तेलंगाना, कर्नाटक, एमपी और हरियाणा की टीम ने भी विभिन्न श्रेणियों के तहत रजत और कांस्य पदक जीते।

चैंपियनशिप में 20 राज्यों के 250 से अधिक खिलाड़िओं ने खेलों में उत्साहपूर्वक भाग लिया। समापन समारोह में मीडिया से बात करते हुए, कर्लिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (सीएफआई) की अध्यक्ष डॉ रश्मी सलूजा ने जम्मू-कश्मीर पर्यटन, जम्मू-कश्मीर सरकार, भारतीय ओलंपिक संघ, कर्लिंग फेडरेशन, प्रायोजकों सहित रेलिगेयर और हमदर्द और अन्य सभी राज्य संघों को उनके योगदान और समर्थन के लिए धन्यवाद दिया।

उन्होंने विशेष रूप से उल्लेख किया कि खेलों के सफल आयोजन में हर चरण में जेकेटीडीसी का सहयोग और समर्थन बहुत महत्वपूर्ण था। उन्होंने यह भी कहा कि ये पहले कर्लिंग राष्ट्रीय खेल सिर्फ शुरुआत हैं और उन्हें विश्वास है कि आखिरकार यह देश के लिए ओलंपिक पदक जीतने में सफल होगा।

श्री योगेश्वर दत्त, ओलंपियन और विश्व प्रसिद्ध पहलवान, जिन्होंने पूरे खेलों में भी भाग लिया और वे मुख्य अतिथि के रूप में खेलों में भाग लेने के लिए बहुत उत्साहित थे। श्री योगेश्वर दत्त ने कहा कि वे इस आयोजन के लिए आमंत्रित करने के लिए राष्ट्रीय कर्लिंग फेडरेशन की अध्यक्ष डॉ. रश्मि सलूजा के आभारी हैं। उन्होंने सभी पदक विजेताओं और टूर्नामेंट के प्रतिभागियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि एक खिलाड़ी को हमेशा दिल से खेलना चाहिए और पूरी कोशिश करनी चाहिए।

कर्लिंग को लोकप्रिय रूप से “बर्फ पर शतरंज” के रूप में भी जाना जाता है, यह 1998 के शीतकालीन ओलंपिक के बाद से शीतकालीन ओलंपिक खेलों में एक पदक खेल रहा है। इसमें वर्तमान में पुरुष, महिला और मिश्रित युगल टूर्नामेंट शामिल हैं। CFI अगले शीतकालीन ओलंपिक, 2026 में मिलान और कॉर्टिना, इटली में भारत का प्रतिनिधित्व करने की दिशा में लगातार काम कर रहा है। कर्लिंग के खेल को ‘खेलो इंडिया’ में भी शामिल किया गया है जिसका आयोजन युवा मामले और खेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किया जाता है।

गुलमर्ग में हुई इस चैंपियनशिप के दौरान खिलाड़िओं ने बर्फ में जमकर मस्ती की।

Curling National Gulmarg
Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें