होम मुख्य खबर अर्नब गोस्वामी पर हमला करने वालों के पास थे “लॉकडाउन पास”

अर्नब गोस्वामी पर हमला करने वालों के पास थे “लॉकडाउन पास”

passes given to attackers

बताया जा रहा है की रिपब्लिक टीवी के मालिक अर्णब गोस्वामी पर हमला करने युवकों के पास लॉक डाउन से बाहर निकलने के लिए स्पेशल पास थे। यदि ये बात सही है तो यह छानबीन का विषय है की उनको यह पास कब और हिलने जारी किए। हालांकि आधिकारिक रूप से यह बात अभी सामने नहीं आई है, लॉक डाउन पास की जानकारी रिपब्लिक टीवी के संस्थापक अजीत दत्ता ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखी है। रिपब्लिक टीवी की वेबसाइट पर भी ऐसा कहा गया है।

पढ़िए क्यों हुया अर्नब गोस्वामी पर हमला

ज्ञात रहे की 22 अप्रैल की रात को अर्णब स्वामी की कार पर दो युवकों अरुण बुरादे और प्रतीक कुमार ने स्याही फेंकी थी, अर्णब गोस्वामी का कहना है की वो उनकी कार का शीशा बारबार थपथपा रहे थे लेकिन अर्णब वहां से भागने में कामयाब रहे। अर्नब के साथ दो महाराष्ट्र पुलिस और एक उनके अपने सिक्योरिटी गार्ड चलते हैं जिन्होंने उन दोनों युवकों को पकड़ कर पुलिस के हवाले किया।

बाद में पता लगा की दोनों युवक युथ कांग्रेस से संबंधित हैं। इस बात की पुष्टि के लिए अलका लाम्बा की एक ट्विटर पोस्ट का सहारा लिया जा रहा है जिसमे अलका लाम्बा लिखती हैं “युवा कांग्रेस जिंदाबाद “, अलका लम्बा का यह ट्वीट अर्णब गोस्वामी पर हमले के कुछ ही घंटो में यानि रात के 3 बजे डाला गया था।

भाजपा नेताओं, केंद्रीय मंत्रियों, भाजपा शासित राज्यों के मुख्य मंत्रियों, देश के पत्रकारों न्यूज़ ब्रॉडकास्टर्स फेडरेशन तथा एडिटर्स गिल्ड ने अर्नब गोस्वामी पर हुए हमले की निंदा की है।

पालघर की घटना के रिपब्लिक टीवी पर लाये जाने के बाद इस घटना ने एक नया रंग ले लिया है। अर्णब गोस्वामी और भाजपा के संबित पत्रा ने रिपब्लिक टीवी पर बहस के दौरान कांग्रेस और गाँधी परिवार पर आरोप लगाए और जमकर हमले किए। अर्नब गोस्वामी ने सोनिया गाँधी पर यहां तक आरोप लगा दिया की वह इस हमले से मन ही मन ही मन बहुत खुश होंगी और इटली में रिपोर्ट कर रही होंगे की देखिए जहां पर मैंने सरकार बना ली वहीं मै हिन्दू संतों को मरवा रही हूँ।

रिपब्लिक टीवी पर अर्नब के इस आरोप के बाद राजनीतिक राजनीतिक गलियरों में तूफ़ान सा आ गया। देश भर से सभी कांग्रेस नेता इसकी निंदा करने लगे। देश के कई राज्यों में अर्णब गोस्वामी पर FIR करवा दी गई। आपकी जानकारी के लिए बता दें की अर्णब गोस्वामी ने उच्चत्तम न्यालय में एक अर्ज़ी दाखिल क्र इन सभी FIR को निरस्त करने की मांग की जिसकी सुनवाई आज सुबह 10.30 पर होगी।

ट्विटर और फेसबुक पर अर्नब के पक्ष और उनके खिलाफ लोगों के कमैंट्स की बाद सी आ गई है। फेसबुक पर अर्नब पर एक कटाक्ष

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें