होम खेल अंतर्राष्ट्रीय TSG दिवस की शुरुआत – पारम्परिक खेलों को बढ़ावा

अंतर्राष्ट्रीय TSG दिवस की शुरुआत – पारम्परिक खेलों को बढ़ावा

International TSG Day

अब पारम्परिक खेलों को भी बढ़ावा दिया जायेगा। 14 अगस्त 2021 को विश्व भर में अंतर्राष्ट्रीय TSG दिवस (International TSG Day) यानी पारम्परिक खेल दिवस मनाये जाने की शुरुआत हो रही है। इस दिन ICTSG द्वारा एक अंतर्राष्ट्रीय वर्चुअल कांफ्रेंस का आयोजन जिसमे दुनिया के 100 से अधिक देशों से लोग भाग लेंगे।

जैसे ऐतिहासिक स्थलों और हमारी संस्कृति को UNESCO सरंक्षित रखता है वैसे ही परम्परागत और ऐतिहासिक खेलों को भी सरंक्षित रखने का कार्य ICTSG यानी International Council of Traditional Sports and Games (ICTSG) द्वारा किया जा रहा है। इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ ट्रेडिशनल स्पोर्ट्स एंड गेम्स (ICTSG) को 2018 में यूनेस्को की एड हॉक एडवाइजरी कमेटी के ट्रेडिशनल गेम्स एंड स्पोर्ट्स की चौथी सामूहिक परामर्श बैठक के दौरान सदस्य राज्यों और अंतर्राष्ट्रीय हितधारकों द्वारा “TSG के आधिकारिक प्लेटफॉर्म” के रूप में मान्यता दी गई। इसके अध्यक्ष खलील अहमद खान और महासचिव शम्मी राणा हैं।

पारंपरिक खेल की अंतर्राष्ट्रीय परिषद का लक्ष्य पारंपरिक खेलों के आयोजन और प्रचार में सरकारी और गैर-सरकारी संगठनों की सहायता करना जबकि ICTSG विश्वभर मई फैले इन संगठनों के मुख्य अंतरराष्ट्रीय संगठन के रूप में नियंत्रित करने का काम करता है।

इस अंतर्राष्ट्रीय पारंपरिक खेल दिवस (International TSG Day) पर, ICTSG के राष्ट्रीय सदस्य संगठन भी अपने-अपने देशों में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन करेंगे, जिससे लोगों को अन्य संस्कृतियों के खेल और खेल खोजने में मदद मिलती है। वे शांति और समानता को भी बढ़ावा देते हैं क्योंकि लोग विभिन्न संस्कृतियों पर चर्चा करते हैं और समझते हैं।

Embed from Getty Images

अमन शर्मा एडवाइज़री समिति सदस्य नियुक्त

Aman

भारत से अमन शर्मा को आईसीटीएसजी (ICTSG) द्वारा एडवाइज़री समिति का सदस्य नियुक्त किया गया है। किया गया है। इंडिया 24×7 न्यूज़ से बातचीत करते हुए अमन शर्मा ने बताया कि 14 अगस्त को हर वर्ष भारत में भी International TSG Day मनाया जायेगा। इस दिन विभिन्न खेल संगठन अपने तौर पर अलग अलग कार्यक्रम आयोजित करेंगे।

आईसीटीएसजी (ICTSG) भारत का प्रतिनिधि नियुक्त किए जाने पर अमन शर्मा ने ICTSG अध्यक्ष खलील अहमद खान और महासचिव शम्मी राणा को धन्यवाद देते हुए कहा हमें भारतीय पारम्परिक खेलों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने का एक अच्छा अवसर मिला है जिसका लाभ भारतीय खेलों को मिलेगा।

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें