होम विदेश भारतीय छात्रों का कनाडा के कॉलेजों को दिया फीस का करोड़ों रुपया...

भारतीय छात्रों का कनाडा के कॉलेजों को दिया फीस का करोड़ों रुपया डूबा – छात्र सड़कों पर

फीस का करोड़ों रुपया डूबा

ओटावा: हाल ही में कनाडा के तीन कॉलेजों ने खुद को दिवालिया घोषित कर कॉलेजों को बंद कर दिया है जबकि हाल ही में इन तीनो कॉलेजों ने छात्रों उनकी पढ़ाई बंद करने के नाम पर फी जमा करवाई थी।

फोटो स्त्रोत इंडियन मोंट्रियल युथ स्टूडेंट आर्गेनाईजेशन

सैंकड़ों छात्र सड़कों पर अपने करोड़ों रुपए की वापसी की मांग करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं। कुछ छात्र दूसरे शहरों में अपने रिश्तेदारों के घर रहने के लिए चले गए हैं।

बंद होने वाले कॉलेजों में मोंट्रियल का एम् कॉलेज, शारब्रूक का सीडीई कॉलेज और लाँग्युइल का सीसीएसक्यू कॉलेज शामिल हैं। तीनो कॉलेज एक ही कंपनी राइजिंग फीनिक्स इंटरनेशनल (आरपीआई) इंक द्वारा संचालित थे। बताया जाता है कि इन कॉलेजों पर अनैतिक तौर पर पैसा लेकर वीसा और एडमिशन दिए जाने की जांच भी चल रही थी।

भारतीय दूतावास ने जारी की एडवाइज़री

कनाडा में भारतीय दूतावास ने एक एडवाइज़री जारी कर कहा कि यदि उन्हें अपनी फीस की वापिस लेने या फीस के हस्तांतरण में कोई कठिनाई होती है, वे क्यूबेक सरकार के उच्च शिक्षा मंत्रालय के पास शिकायत दर्ज कर सकते हैं। एडवाइजरी में कहा गया है कि प्रभावित छात्रों को सहायता प्रदान करने के लिए उच्चायोग कनाडा की संघीय सरकार, क्यूबेक की प्रांतीय सरकार के साथ-साथ कनाडा के भारतीय समुदाय के निर्वाचित प्रतिनिधियों के साथ निकट संपर्क में है।

दूतावास ने कहा जिन छात्रों को तत्काल सहायता की आवश्यकता हो वे ओटावा में उच्चायोग के शिक्षा विंग या टोरंटो में भारत के महावाणिज्य दूतावास से संपर्क कर सकते हैं। कनाडा सरकार ने उच्चायोग को यह भी सूचित किया है कि जो छात्र कमाडा में रह रहे हैं और वह दूसरे वैकल्पिक संस्थानों में प्रवेश लेना चाहते हैं उन्हें इसके लिए छूट दी जा रही है।

इन तीनो कॉलेजों से सम्बंधित शिकायत इस लिंक पर भी की जा सकती है https://www.quebec.ca/en/government/ministere/education/contact-information-for-the-ministry/complaints

चेतावनी के रूप में दूतावास ने कहा कि जो अनाधिकृत लोग वीसा के नाम पर पैसा मांगते हैं उन्हें ना तो अपनी कोई निजी जानकारी दें और ना हे पैसा देकर वीसा लें।

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें