होम मुख्य खबर यूक्रेन में भारतीय दूतावास की भारतीय छात्रों के लिए सूचना – भारत...

यूक्रेन में भारतीय दूतावास की भारतीय छात्रों के लिए सूचना – भारत सरकार द्वारा उठाया गया बड़ा कदम

यूक्रेन में 16000 से अधिक भारतीय छात्र फसे हैं। भारतीय छात्रों द्वारा सोशल मीडिया पर बार बार वीडियो प्रसारित किये जा रहे हैं जिसमे वह भारतीय दूतावास द्वारा सहयोग ना करने की शिकायत कर रहे हैं और साथ ही भारत सरकार और प्रधानमंत्री से मांग कर रहे हैं की उन्हें वहा से जल्द जल्द से निकाला जाए। एक छात्र ने तो छात्रों को बचाने के लिए यूक्रेन में भारतीय फौजों को भेजने की मांग कर डाली।

ऐसी वीडियो से हम से छात्रों की परेशानी और उनमे डॉ का अंदाज़ा लगा सकते हैं। इसी के मद्देनज़र भारत सरकार ने कुछ आवश्यक कदम उठाये हैं। भारतियों को यूक्रेन से बचाने के लिए ऑपरेशन गंगा चलाया जा रहा है। ऑपरेशन गंगा के तहत @opganga @IndianUkraine ट्वीटर अकाउंट भी बनाया गया है जिसपर यूक्रेन में रह रहे भारतीय नागरिकों और छात्रों को जानकारी मुहैया करवाई जा रही है।

अब से कुछ समय पहले भारतीय दूतावास ने एक ट्वीट कर छात्रों को को सलाह दी है की वह ट्रैन के माध्यम से बॉर्डर की तरफ रवाना हों।
भारतीय दूतावास का ट्वीट “कीव में सप्ताहांत कर्फ्यू हटा दिया गया है। सभी छात्रों को पश्चिमी भागों की यात्रा के लिए रेलवे स्टेशन जाने की सलाह दी जाती है। यूक्रेन रेलवे निकासी के लिए विशेष ट्रेनें चला रहा है।”

भारत सरकार द्वारा उठाया गया बड़ा कदम

Four Ministers to evacuate Indians

भारत सरकार ने युद्ध से प्रभावित यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने के प्रयास तेज कर दिए हैं। सरकार अब भारत सरकार के चार केंद्रीय मंत्रियों को यूक्रेन के पड़ोसी देशों में फंसे हुए भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए भेज रही है। चार मंत्री हैं- हरदीप पुरी, ज्योतिरादित्य सिंधिया, किरेन रिजिजू और जनरल वीके सिंह।

भारत सरकार ने युद्ध से प्रभावित यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने के प्रयास तेज कर दिए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उच्च स्तरीय मीटिंग के दौरान एक बड़ा फैसला लिया गया। सरकार अब भारत सरकार के चार केंद्रीय मंत्रियों को यूक्रेन के पड़ोसी देशों में फंसे हुए भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए भेज रही है।

चार मंत्री हैं- हरदीप पुरी, ज्योतिरादित्य सिंधिया, किरेन रिजिजू और जनरल वीके सिंह।


Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें