होम राजनीती फरवरी में ग्लोबल इन्वेस्टमेंट समिट में दस लाख करोड़ के निवेश का...

फरवरी में ग्लोबल इन्वेस्टमेंट समिट में दस लाख करोड़ के निवेश का लक्ष्य

लखनऊ में आने वाली 10 से 12 फरवरी को ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 का आयोजन किया जाएगा। इस समिट में दस लाख करोड़ रूपए के निवेश का लक्ष्य रखा गया है जो की उत्तरप्रदेश को दस खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला राज्य बनाने में अहम् भूमिका निभाएगा।

इस समिट में सिंगापुर, फ्रांस, यूके. मॉरीशस जैसे देशों ने पार्टनर कंट्री बनने का प्रस्ताव दिया है। अंदाजा लगाया जा रहा है की एक दर्जन से अधिक देश इस समिट में पार्टनर बन सकते हैं। समिट के प्रचार प्रसार के लिए डेढ़ दर्जन से अधिक देशो में रोड शो का आयोजन किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने गुरूवार शाम आयोजित बैठक में समिट की तारीखों का एलान किया और कहा की जीआईएस  नए भारत के नए उत्तर प्रदेश  की आकांक्षाओं को उड़ान देने वाली साबित होगी।

मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित हुई इस बैठक में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश औद्योगिक निवेश के ड्रीम डेस्टिनेशन  के रूप में उभर कर सामने आया है। उन्होंने बताया कि तीन दिवसीय ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का यह आयोजन अभूतपूर्व होगा। मुख्यमंत्री ने अधिकारीयों को निर्देश दिया की कंट्री पाटर्नर बनाने के लिए नीदरलैंड, कनाडा, यूएसए, जापान, इजरायल, स्वीडन, थाईलैंड, फ्रांस और सिंगापुर के राजदूतों, उच्चायुक्तों से संवाद किया जाए।

उन्होंने कहा कि इस समिट के माध्यम से प्रदेश की शानदार ब्रांडिंग होगी। मुख्यमंत्री का कहना है कि विभिन्न देशों में रोड शो के आयोजन के लिए  फिक्की और सीआईआई जैसे औद्योगिक संगठनों का भी सहयोग लिया जाना चाहिए।

उन्होंने समिट के प्रचार-प्रसार की योजना बनाने और रोड शो के लिए देशों और शहरों का चयन करते हुए विस्तृत रूट तय करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि सरकार के मंत्री प्रदेश के ब्रांड एम्बेसेडर के तौर पर अंतरराष्ट्रीय रोड शो में भाग लेंगे । रोड शो का आयोजन दिल्ली, अहमदाबाद, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुुरु, हैदराबाद और चेन्नई जैसे शहरों में भी किया जाएगा ।

READ MORE NEWS

Advertisement

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें