Home व्यापार बिना चार्जर फोन बेचने पर एप्पल पर लगी रोक और 18 करोड़ जुर्माना

बिना चार्जर फोन बेचने पर एप्पल पर लगी रोक और 18 करोड़ जुर्माना

0
बिना चार्जर फोन बेचने पर एप्पल पर लगी रोक और 18 करोड़ जुर्माना

India 24×7 News: बिना चार्जर फोन बेचने पर एप्पल पर लगी रोक और 18 का जुर्माना – जहां एक तरफ एप्पल बुधवार को एक इवेंट के दौरान iPhone 14 लॉंच करने जा रही है वही दुनिया की इस जानीमानी मोबाइल फोन कम्पनी एप्पल पर बिना चार्जर मोबाइल फोन बेचने पर कोर्ट ने रोक लगा दी और 18 करोड़ रुपए का जुर्माना भी किया। कोर्ट का मांनना है कि एप्पल ने उपभोग्ता को पूरा प्रोडक्ट नहीं दिया।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एप्पल ने iPhone 12 के लांच से फ़ोन के साथ दिया जाने वाला चार्जर देना बंद कर दिया था। एप्पल का कहना था कि कार्बन एम्मिशन को कम करने की कोशिश के तहत ऐसा किया गया। लेकिन एप्पल पर जुर्माना लगाते हुए ब्राज़ील की जस्टिस मनिस्ट्री ने कंपनी के इस तर्क को नकारते हुए एप्पल को अपने ऐसे सभी फ़ोन बेचने पर रोक लगाने को कहा जिसके साथ चार्जर नहीं आता है। जस्टिस मनिस्ट्री ने कहा कि ऐसे कोई प्रमाण नहीं हैं कि स्मार्ट फोन के साथ चार्जर ना देने से प्रदूषण कम करने में सहायक है। एप्पल पर लगी रोक फायदा है या नुक्सान

एप्पल पर लगी रोक फायदा है या नुक्सान


इस बारे में हमने दिल्ली में मोबाइल चार्जर बनाने वाली एक जानी मानी कम्पनी Blue Bell Electronics and Technology के मालिक हरपाल सिंह फ़्लोरा से बात की। हमने उनसे पूछा कि एप्पल का यह तर्क कितना सही है तो उन्होंने बताया कहा कि एप्पल का यह तर्क बिलकुल सही है, क्योंकि आजकल अधितर कंपनियां अपने मोबाइल के साथ Type C चार्जर देने लगी हैं तो जो ग्राहक नया फोन खरीदता है उसके पास पहले से ही पुराना चार्जर भी होता है। आपको एक घर में कई कई चार्जर मिल जाएंगे। एप्पल पर लगी रोक फायदा है या नुक्सान

उन्होंने बताया कि यदि एप्पल अपने फोन के साथ चार्जर नहीं भी देती तो उपभोगताओं को कोई फर्क नहीं पड़ता। पिछले कुछ वर्षों में चार्जर टेक्नोलॉजी में ज़बरदस्त बदलाव आया है। यदि किसी को चार्जर लेना ही है तो बाज़ार आजकल बेहतरीन क्वालिटी के QC या PD चार्जर उपलब्ध हैं, जो आपका फोन कुछ ही मिनटों में 50 से 80 प्रतिशत तक चार्ज क्र देते हैं। आप अपनी जेब अनुसार बाज़ार से चार्जर ले सकते हैं।

हरपाल सिंह फ़्लोरा ने बताया कि हाल ही में ओप्पो ने भी घोषणा की है कि वह भी अपने कुछ फोन मॉडल के साथ चार्जर नहीं देगा। हालांकि उन्होंने मॉडल का खुलासा नहीं किया है और ना ही बताया है कि वह किस बाज़ार की बात कर रहे हैं। इतना ही नहीं अन्य कंपनियां भी इस पर विचार कर रही हैं, ऐसे करने से फोन की कीमत घटती है और देशी मोबाइल एक्सेसरीज ब्रांड्स को भी बढ़ावा मिलता है।

एप्पल पर लगी रोक फायदा है या नुक्सान

Read English News


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here